Follow by Email

Wednesday, 11 April 2012

करके कारक पक्ष, झूठ करता है बम-बम -

(१)
Bhima kills Ashwathama the elephantअश्वस्थामा हस्ति की, हस्ती देत मिटाय ।
जीव-जंतु मरते गए, शामिल धर्म चुपाय ।
शामिल धर्म चुपाय,  द्रोण की हत्या होती ।
यह युक्ति-निर्दोष,  बीज हत्या की बोती ।
पाँचो पांडव पुत्र, कटे मिटता कुल-नामा ।
मणि विहीन ले घाव, भटकता अश्वस्थामा ।




(२)
Picture

पर्यावरण परिस्थिती, दे झूठों का साथ ।
चिरंजीव की मृत्यु सुन, घूम द्रोण का माथ ।


घूम द्रोण का माथ, मरे ना अश्वस्थामा ।
पर करते विश्वास, बिधाता होते बामा ।

ऐसे शाश्वत सत्य,  हारता जाए हरदम । 
करके कारक पक्ष, झूठ करता है बम-बम ।।

  

1 comment:

  1. मणिविहीन अश्वथामा सदियों से यूँ भटक रहा है।

    ReplyDelete