Follow by Email

Thursday, 5 December 2013

बने रेप का केस, अगर आपस में टेंशन-

लिव-इन रिलेशन ले बना, मना रे-मना मौज |
लड्डू की अब फ़िक्र क्या, खा बादामी *लौज |

खा बादामी लौज, तरुण धोखा मत खाना |
रविकर कहता नौज, नहीं मुँह कभी फुलाना |

बने रेप का केस, अगर आपस में टेंशन |
देखे भारत देश, चट-पटा लिव-इन रिलेशन ||

लौज =मिठाई 
 नौज=ईश्वर न करे

3 comments: