Follow by Email

Tuesday, 19 March 2013

इन्ज्वायिंग मेजोरिटी, बोल गई सरकार-




किडनी डी एम के गई, वेंटीलेटर पार । 
इन्ज्वायिंग मेजोरिटी, बोल गई सरकार । 
बोल गई सरकार, बहुत आनंद मनाया । 
त्राहि त्राहि इंसान,  देखना भैया भाया । 
सत्ता का आनंद, हाथ की खुजली मिटनी । 
हाथी सैकिल बैठ, लूट लाएगा किडनी । 



किसको चुनें:-वह मारे इक बार, रोज मत मरना यारा-

यारा हत्यारा चुनो, धूर्त लुटेरे दुष्ट |
टेरे माया को सदा, करें बैंक संपुष्ट |


करें बैंक संपुष्ट, बना देंगे भिखमंगा |
मर मर जीना व्यर्थ,  विदेशी
नाचे नंगा |

हत्यारा तो यार, ख़याल रख रहा हमारा |
वह मारे इक बार, रोज मत मरना यारा ||


5 comments: