Follow by Email

Thursday, 13 September 2012

आग लगे डीजल जले, तले *पकौड़ी पन्त -


चाटुकार *चंडालिनी, चले चाट सामन्त । 
आग लगे डीजल जले, तले *पकौड़ी पन्त ।

तले पकौड़ी पन्त, कीर्ति मँहगाई गाई ।
गैस सिलिन्डर ख़त्म, *कोयला पूरा भाई ।

*इडली अल्पाहार, कराये भोजन *जिंदल ।
इटली *पीजा रात, मने *जंगल में मंगल ।।

प्रश्न : तारांकित शब्दों के अर्थ बताएं ।।

बने नहीं पर न्यूज, लाख मारे मँहगाई


बावन शिशु हरदिन मरें, बड़ा भयंकर रोग ।
खाईं में जो बस गिरी, उसमें बासठ लोग ।

उसमें बासठ लोग, नाव गंगा में डूबी ।
दंगे मार हजार, पुलिस नक्सल बाखूबी ।

गिरते कन्या भ्रूण, पड़े अब खूब दिखाई ।
बने नहीं पर न्यूज, लाख मारे मँहगाई ।।

1 comment:

  1. @ चंडालिन की 'गंध' को, ईकारांत बनाओ.
    छोड़ पकौड़ी पन्त को, 'जयरोम-जयरोम' गाओ.
    'जयरोम जयरोम' गाओ, जायसवाल जोत जलाओ.
    गैस कोयला त्याग, धुएँ से अन्न पकाओ.
    आराधो now 'रोम' की, एंटोनिया मेनियायो.
    प्राचीन पद्धति व्यर्थ, नवीन जिंदल अपनाओ.

    ReplyDelete