Follow by Email

Sunday, 5 August 2012

कांग्रेस दो अंक, किन्तु चुप्पी भाजप पर - रविकर

(1)
बांछे खिलती जा रहीं, छुटभैयों की आज |
अडवानी की अड़डपो, आये सबका राज |

आये सबका राज, ख़ुशी पूरब में छाई |
जय ललिता को आज, मिली है बड़ी बधाई |

शरद मुलायम लाल, बड़ी पी एम् की माया |
मुंह में घोटें राल, सभी का मन ललचाया ||


(2)
अड़-डंडा झुकता गया,  अड़-वाणी की नाव ।
हिचकोले खाने लगी, ठगी खड़ी इस गाँव ।
 
ठगी खड़ी इस गाँव, *अड़डपोपो अड़ियल की |
पी एम् होगा वहीँ , पार्टी जो मरियल सी |
*शुभाशुभ बताने वाला |

कांग्रेस दो अंक, किन्तु चुप्पी भाजप पर  |
पाए ना दो सीट, आस अन्ना की बेहतर ||

No comments:

Post a Comment